नवसारी जिले में भ्रष्टाचार बना शिष्टाचार

आज गुजरात सरकार चन्द अधिकारियों नेताओं के द्वारा बदनाम हो रही हैं । और यहाँ प्रशासनिक अधिकारी अपनी पहचान नाम और फर्ज को भूल गए हैं । इसके पहले वर्ष भी नही गुजरा। फर्जी तरीके से एक सामान्य डिप्लोमा इंजीनियर नवसारी जिले में वर्ग एक के अधिकारियों में सेंध लगाने में कामयाबी हासिल की । और भारत में आज तक टेलेंट और हिम्मत वाले कामयाबी के अंतिम शिखर तक पहुँच गए । यहां पकौड़ी का धंधा बताया और किसी ने बैंक का सौदा कर दिया । आज यही हाल है नवसारी जिले की।
        नवसारी जिले में नगरपालिकाओ के ऊपर जब से अलग कर जिला म्युनिस्पल ओफीसर की पोस्ट सरकार ने बनाया । तब से नगर पालिकाओ में भ्रष्टाचार की बाजार आ गयी।
आज नवसारी जिले में सभी नगरपालिकाओ से कायदे सर पढ़े लिखे अधिकारियों को हटा दिया गया । आज सभी नगरपालिकाओ को निराधार बना दिया गया है । नवसारी विजलपोर गणदेवी बीलीमोरा मैं आज चिफ ऑफिसर के नाम पर मजाक किया जा रहा है । और यहाँ प्रशासनिक अधिकारी अपनी पहचान खो चुके हैं अथवा उनका अस्तित्व उनकी पहचान उनके पास से भी छीनी जा चुकी हैं । अथवा आरक्षण की खान से निकल कर आये है।कहना मुश्किल है । हालाँकि नवसारी जिले के जिला म्युनिस्पल ऑफिसर का पद भी खाली करवा दिया गया है ।
नवसारी जिला म्युनिस्पल ऑफिसर के नाम पर

Rate this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *